Who Invented Electricity | बिजली का आविष्कार किसने किया था

Invention Of Electricity

Who Invented Electricity – बिजली का हमारे जीवन में, क्या महत्व है ये हमसे बेहतर और कोई बता सकता है क्योंकि बिजली के बिना ना केवल हमारा वर्तमान जीवन बल्कि भविष्य में, अंधकारमय हो जायेगा क्योंकि बिजली ना केवल हमारे जीवन को रौशनी प्रदान करता है ,

Invention Of Electricity

बल्कि हमारी सामान्य जीवन शैली की पूरी रुप – रेखा तय करने में, एक अह्म भूमिका निभाती है और इसी के लिए हम, आपको अपने आज के इस आर्टिकल में, Who Invented Electricity | बिजली का आविष्कार किसने किया था ? की जानकारी प्रदान करेंगे।

बिजली ना केवल आज के समय मे, हमारी एक मौलिक जरुरत बन चुकी है बल्कि वास्तविक मायनो में, कहा जायें तो बिजली, एक मानव अधिकार बन चुका है जो कि, ना केवल उसके सतत व सुखी जीवन के लिए बल्कि उसके सतत विकास व उज्जवल भविष्य के लिए अनिवार्य है लेकिन क्या आप जानते है कि, Who Invented Electricity – बिजली का आविष्कार किसने किया था?

यदि आप नहीं जानते है कि, Who Invented Electricity – बिजली का आविष्कार किसने किया था? तो हम, आप सभी को अपने इस आर्टिकल में, विस्तार से बतायेंगे कि, बिजली का आविष्कार किसने किया था? ताकि आप अपने जीवन को विकासमयी चकाचौंध से भरने वाली रौशनी प्रदान करने वाली बिजली के गौरवमयी इतिहास की जानकारी प्राप्त कर सकें और यही हमारे इस आर्टिकल का लक्ष्य है।

बिजली का आविष्कार किसने किया था?

आइए अब हम, कुछ बिंदुओं की मदद से अपने सभी पाठको व युवाओं को बतायेंगे कि, बिजली का आविष्कार किसने किया था? जो कि, इस प्रकार से हैं-

Who Invented Electricity

  1. बिजली को खोजा गया था ना कि, इसका आविष्कार किया गया था?

आमतौर पर अनेको विद्धानों द्धारा ऐसा कहा जाता है कि, बिजली स्वाभाविक रुप से उपलब्ध होती है जो कि, ऊर्जा का एक रुप होता है और इसी वजह से बिजली के संबंध में, कहा जाता है कि, बिजली को खोजा गया था ना कि, इसका आविष्कार किया गया था।

  1. बिजली की खोज का कार्य कब और कैसे शुरु हुआ?

हम, आपको कुछ बिंदुओँ की मदद से बताना चाहते है कि, बिजली की खोज का कार्य कब और कैसे शुरु हुआ जो कि, इस प्रकार से हैं-

  • बिजली की खोज का कार्य 600 ईसा पूर्व में, तब शुरु हुआ था तब प्राचीन यूनानियों को ये ज्ञात हुआ कि, एम्बर ( एक प्रकार का जीवाश्म वृक्ष ) पर, फर घिसने से जो राल उत्पन्न होती है जिससे वस्तुओं के बीच आकर्षण अर्थात् चुम्बकत्व उत्पन्न होता है जिसे विज्ञान की भाषा में, स्थिर ऊर्जा कहा जाता है,
  • साल 1930 में, जाकर शोधकर्ताओं द्धारा प्राचीन बैटरीयों का निर्माण किया गया जो कि, ताम्बे की चादर सहित बर्तनो के बने हुए थे जिससे प्रागैऐतिहासिक रोमन सोसाइटी में, बिजली उत्पादन का प्रयत्न किया जाता था,
  • 17वीं शताब्दी में, जाकर दो मौलिक आविष्कार हुए जैसे कि – Electronic Generator और सकारात्मक व नकारात्मक धन प्रवार की खोज हुई और इन्हीं दोनो खोंजो के फलस्वरुप पूरे विश्व में, इलैक्ट्रोनिक युग की शुरुआत हुई,
  • इटालियन भौतिकशास्त्री अलेक्सांद्रो वोल्टा ने, सिद्ध किया कि, रासायनिक प्रतिक्रियायें भी बिजली उत्पादन में, अह्म भूमिका निभाती है और साथ ही साथ इन्होंने आगे चलकर इलैक्ट्रीक बैटरी का निर्माण भी किया,
  • 1839 में, जाकर माइकर फैराडे ने, धुमे हुए ताम्बे के भीतर जाने में, सक्षम चुम्बक का निर्माण किया जिसकी मदद से छोटी मात्रा में, विद्युत का प्रवाह होता था,
  • 1878 में, जाकर अमेरिकी वैज्ञानिक थॉमस एडिसन में, फिलामेंट लाइट बल्ब का आविष्कार किया आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओँ की मदद से हमने आपको Who Invented Electricity – बिजली का आविष्कार किसने किया था? की परत दर परत जानकारी प्रदान की।

निष्कर्ष

बिजली ना केवल हमारे जीवन का मूलाधार है बल्कि हमारे उज्जवल व विकासमयी भविष्य का निर्माता भी है। बिजली के आविष्कार से ना केवल हमारे जीवन स्तर में, विकास हुआ बल्कि उत्पादन के क्षेत्र में, क्रान्तिकारी बदलाव देखने को मिलेगा जिससे पूरा विश्व लाभान्वित हुआ और इसीलिए हमने आपको अपने इस आर्टिकल में, विस्तार से बिजली का आविष्कार किसने किया था? की पूरी जानकारी प्रदान की।

अन्त, हम, उम्मीद व आशा दोनो करते है कि, आपको हमारा ये आर्टिकल रोचक व ज्ञानपूर्ण प्रतीत हुआ होगा व आर्टिकल में, दी गई जानकारी आपके लिए मूल्यवान सिद्ध हुई होगी और यदि आपकी इससे संबंधित को कोई प्रश्न हैं तो बेझिझक हमें, कमेंट करके बतायें व साथ ही साथ अपने विचार व सुझाव भी हमें, कमेंट करके जरुर बतायें ताकि हम, इसी तरह के आर्टिकल आपके लिए लाते रहें।

 

Leave a Comment